एशिया की पहली Flying Car India में उड़ेगी। क्या है Flying Car Price In India पूरी जानकारी

दोस्तों आपने आए दिन लांच होने वाली कारों के बारे में तो जरूर सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है एशिया की सबसे पहली उड़ने वाली कार भारत बना रहा है। यह उड़ने वाली हाइब्रिड कार चेन्नई के एक स्टार्टअप के द्वारा बनाई जा रही हैं।और आने वाले 1 साल के अंदर यह फ्लाइंग कार बनकर पूरी तरह से तैयार हो जाएगी। तो आज हम इस आर्टिकल के अंदर Vinata aeromobility startup और बहुत ही जल्दी आने वा इनकी  फ्लाइंग कार के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं।

Table of Contents

Vinata Flying car launch कब होगा?

इस हाइब्रिड फ्लाइंग कार को एक स्टार्टअप Vinata aeromobility के द्वारा बनाया  रहा है। और इसे 5 अक्टूबर 2021  यानि की अगले महीने में लंदन के अंदर होने वाले दुनिया के सबसे बड़े helitech exhibition जिसका नाम Excel है इस एग्जीबिशन के अंदर इस Hybrid flying car का prototype लॉन्च किया जाएगा।

Vinata Flying car क्या-क्या टेक्नोलॉजी इस्तेमाल की गई।

यह एक ऑटोनॉमस हाइब्रिड फ्लाइंग कार होने वाली है इसके अंदर डिजिटल इंस्ट्रूमेंट पैनल के साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भी इस्तेमाल किया गया है। जिसके कारण इसे बहुत ही आसानी से ऑपरेट किया जा सकेगा। 

इस फ्लाइंग कार को ग्राउंड से ऑपरेट किया जा सकेगा जिसके कारण इसे चलाने के लिए पायलट की जरूरत नहीं पड़ेगी। हालांकि इसके अंदर मैनुअली ऑपरेट करने का भी विकल्प दिया गया है जिसे इमरजेंसी के समय इस्तेमाल किया जा सकेगा।

इसके अंदर हाइब्रिड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है जिसकी वजह से इसे बायोफ्यूल और इलेक्ट्रिसिटी की मदद से भी चलाया जा सकेगा। यह वर्टिकली बहुत ही आसानी से किसी भी फ्लैट सरफेस पर लैंडिंग कर सकती हैं जिसके कारण से कहीं पर भी उतारा जाएगा और इसे आप अपने घरों की छतों पर भी बहुत ही आसानी से उतार पाएंगे और वहीं से टेक ऑफ कर पाएंगे।

इस flying car का उपयोग कहा पर होगा ।

सबसे पहले इस कार को मेट्रो सिटीज के अंदर इस्तेमाल किया जाएगा। क्योंकि जैसा कि आपको पता है कि मेट्रो सिटीज के अंदर बहुत सारा ट्रैफिक होता है और इसकी वजह से लोग समय पर अपने काम पर नहीं पहुंच पाते। लेकिन फ्लाइंग कार के आने के बाद बहुत ही आसानी से और समय पर अपने काम पर पहुंच पाएंगे।

इसके साथ ही से मेडिकल इमरजेंसी मैं भी इस्तेमाल किया जा सकेगा। क्योंकि सड़क पर होने वाले हेवी ट्रेफिक की वजह से इमरजेंसी काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है। लेकिन फ्लाइंग कार से सभी तरह के काम बहुत ही आसानी से और जल्दी हो पाएंगे

भारत की और एशिया की पहली flying car price क्या है ?

हालांकि  vinata aero mobility ने अभी तक इसका प्राइस नहीं बताया है । लेकिन आपको बता दें कि इसे आम लोगों को नहीं बेचा जाएगा। इसे कंपनी की ऑन बोर्ड टीम के द्वारा कॉर्पोरेट किया जाएगा यानी कि आप इस फ्लाइंग कार की सर्विस ले पाएंगे जैसे की आपको एक जगह से दूसरी जगह पर जाना हो तो आप इस फ्लाइंग कार का  इस्तेमाल कर सकेंगे।

vinata aeromobility flying car range क्या होगी?

इस फ्लाइंग कार को 60 मिनट तक हवा में उड़ाया जा सकेगा। यानी कि लगभग 1 घंटे के अंदर आप 150 किलोमीटर ट्रेवल कर पाएंगे और यदि आपको 150 किलोमीटर से ज्यादा की ट्रैवल करनी होगी तो आपको किसी दूसरे सेंटर पॉइंट से तो कनेक्ट करना पड़ेगा उसके बाद आप और ज्यादा डिस्टेंस कवर कर पाएंगे। 

स्टार्टअप vinata aeromobility के founder कौन है ?

विनाता ऐरोमोबिलिटी के फाउंडर Yogesh Ramanathan है। और इन्होने एक इंटरव्यू में इस फ्लाइंग कार के बारे में पूरी जानकारी दी है। और इन्होने बताया की 12 से 14 महीनो में ये कार तैयार कर ली जाएगी हालाँकि इसका प्रोटोटाइप बनकर तैयार है। यह flying कार दो अलग अलग वेरिएंट में आएगी जिसमे पैसेंजर और cargo दो तरह की फ्लाइंग कार शामिल है। 

FAQ Related to Vinata flying car

विश्व की पहली उड़ने वाली कार कहां बनी ?

नेदरलैंड की एक कंपनी जिसका नाम Personal Air-Land Vehicle है जिसने  PAL-V नाम से दुनिया की पहली कमर्सिअली उड़ने वाली कार लॉन्च की है ?

Vinata Flying Car में कितने लोग बैठ सकते है ?

इस फ्लाइंग कार में दो लोग एक साथ बैठ सकते है।

क्या Vinata Flying Car अपने आप चलती है ?

हां , इस फ्लाइंग कार्ड को किसी ड्रोन की तरह जमीन पर बैठे ग्राउंड स्टाफ के द्वारा ऑपरेट किया जायेगा। यानि की यह flying car automatic होगी।

क्या flying car को उड़ने के लिए एयरपोर्ट की जरूरत पड़ेगी?

कुछ फ्लाइंग कार ऐसी होती है जिनको उड़ने और उतरने के लिए एक हवाई पट्टी की जरूरत पड़ती है। परन्तु Vinata Flying Car vertically take off और लैंड कर सकती है। ऐसे में इसको किसी प्रकार के रनवे की जरूरत नहीं पड़ती है।

क्या Vinata Flying Car घर की छत्त पर उतर सकती है ?

हा,

Vinata Flying Car कब लॉन्च होगी ?

इस फ्लाइंग कार को 5 अक्टूबर 2021 को लन्दन के अंदर होने वाले एक aviation exhibition जिसका नाम Excel है। इसमें इसके प्रोटोटाइप को को लॉन्च किया जायेगा।

Vinata Flying Car का वजन कितना है

इस फ्लाइंग कार का वजन 1100kg है और उड़ते समय इसका वजन ज्यादा से ज्यादा 1300kg हो सकता है। यानि किन कार और इसके अंदर बैठने वाले लोगो का का कुल वजन 1300kg से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

एशिया की पहली उड़ने वाली कार के अंदर कितने व्यक्ति बैठ सकते है

एशिया की पहली फ्लाइंग कार यानि कि Vinata flying car के अंदर २ लोग बैठ सकते है।

क्या भारत में सभी लोग flying car चला सकते है।

अभी भारत में आम लोगो को फ्लाइंग कार चलाने की अनुमति नहीं है। और Flynig car को अभी के टाइम में इंडिया में कोई भी कंपनी नहीं बेच रही है। लेकिन भारत का एक startup जिसका नाम Vinata aeromobility है वह एक ऐसी hybride flying car बना रहा है। जिसे कमर्सिअली इंडिया और दूसरी कंट्री में लॉन्च किया जायेगा।

Vinata Flying Car india में कब चालू होगा?

विनाता ऐरोमोबिलिटी के फाउंडर Yogesh Ramanathan के अनुसार 12 से 14 महीनो में यह कार बनकर तैयार हो जाएगी।

उड़ने वाली गाड़ी कैसे बनती है?

यहां पर हम यदि एशिया की पहली उड़ने वाली कार vinata flying car की बात करे तो इसमें 8 रोटर ब्लेड लगे है जिसकेकारण यह वर्टिकली उड़ान भर सकती है। इसे बायो फ्यूल और इलेक्ट्रिसिटी दोनों की मदद से चलाया जा सकता है।

भारत में बनने वाली vinata flying car को कितना दूर तक उड़ाया जा सकता है ?

इस कार को 150 km की रेंज में उड़ाया जा सकता है।

निष्कर्ष 

हमने इस आर्टिकल में जाना की एशिया की पहली flyinng कार Vinata Flying Car कब आने वाली है और इस टेक्नोलॉजी से क्या-क्या फायदे होने वाले है। हमने जाना की यदि यह उड़ने वाली कार मार्केट में आएगी तो इससे ऐसे बहुत से काम आसानी से किये जा सकेंगे जिनको अभी बहुत समय लगता है। जिसका सबसे बड़ा कारण धरती पर बढ़ता ट्राफी है।

आपको इस एशिया की पहली उड़ने वाली Vinata Flying Car के बारे में जानकारी कैसी लगी। यही आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो नीचे दिए गए शेयर बटन से इसे अपने दोस्तो से साथ जरूर शेयर करे।

Leave a Comment